पालमपुर : छोटे से गांव में रहने वाले सेना के पूर्व कर्नल डा. चंदन एम्स के निदेशक बने

Spread the love

फोकस हिमाचल| पालमपुर

पालमपुर के तहत खैरा निवासी भारतीय सेना से सेवानिवृत्त कर्नल डा. चंदन कटोच राजकोट एम्स के निदेशक बने हैं। उनकी नियुक्ति तीन वर्ष के लिए हुई है। डा. चंदन कटोच खैरा पंचायत के कोठी गांव के निवासी हैं और कुछ समय पहले ही सेना के मेडिकल कॉलेज पुणे से बतौर प्राध्यापक सेवानिवृत्त हुए हैं। जून 1962 को पिता स्वर्गीय ईश्वर चंद कटोच व माता स्व. स्नेहलता कटोच के घर जन्मे डा. चंदन कटोच की प्रारंभिक शिक्षा राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला खैरा में हुई थी। इसके बाद जम्मू मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस की पढ़ाई की और जिला कांगड़ा के तहत स्वास्थ्य उपकेंद्र रक्कड़ से सेवाएं शुरू कीं। इस दौरान उनका चयन सेना में बतौर चिकित्सक हो गया। उन्होंने दिल्ली से मेडिसिन में एमडी व पुणे यूनिवर्सिटी से डीएम की डिग्री हासिल की। सेना के विभिन्न अस्पतालों में सेवाओं के दौरान उन्हें जेएंडके सेवा मेडल, विशिष्ट सेवा मेडल, ऑपरेशन श्रीलंका व पराक्रम में सेवा मेडल सहित अन्य पुरस्कारों से अलंकृत किया गया है। सेना से अब वह मेडिकल कॉलेज पुणे से बतौर प्राध्यापक सेवानिवृत्त हुए हैं।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *