चीड़ के पत्तों से किया कमाल, सुदर्शना ने पेश की हुनर की मिसाल, कांगड़ा की सुदर्शना स्टार्टअप हीरो ऑफ द स्टेट

Spread the love

धर्मशाला से अरविंद शर्मा की रिपोर्ट

करोना महामारी के चलते हुए लॉकडाउन के दौरान जहां घरों में कैद ज्यादातर लोग अपने मोबाइल फोन टाइम पास कर रहे थे, हिमाचल प्रदेश की एक महिला अपने हुनर से अपनी कल्पनाओं को चीड़ की पत्तियों के जरिये युनीक डेकोरेटिव आइटम में ढालने में व्यस्त थी। इस पे्रेरककथा की नायिका है कांगड़ा जिला के रैत गांव की सुदर्शना देवी। सुदर्शना देवी ने अपने हुनर से चीड़ के पत्तों के ऐसे उत्पाद बनाने में महारत हासिल की है कि उन्हें स्टार्टअप हीरो ऑफ द स्टेट के पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। चीड़ के पत्तों से निर्मित उनके युनीक डेकोरेटिव उत्पाद सबका मन मोह लेते हैं। ऐसे में जबकि हिमाचल प्रदेश में चीड़ के जंगलों की भरमार है, स्टार्टअप इंडिया की खोज कही जाने वाली सुदर्शना देवी के इस मॉडल को विकसित किया जाए तो प केवल प्रदेश में आर्थिकी का नया आधार खड़ा हो सकता है, बल्कि बेरोजगारी से पार पाने में भी उनका स्टार्टअप अहम भूमिका अदा कर सकता है।
No photo description available. No photo description available.
जनमंच से मिली पहचान, राह हुई आसान
सुदर्शना देवी कई बर्षों से चीड़ के पत्तों से डोकेरटिव उत्पादन बनाने का काम कर रहीं थीं, लेकिन उनके हुनर के बारे में कम ही लोगों को पता था। प्रदेश सरकार के जनमंच कार्यक्रम के जरिये उनकी प्रतिभा पहली बार लोगों के सामने आई। खंड विकास अधिकारी धर्मशाला अभिनीत कात्यायन, धर्मशाला ब्लॉक में कार्यरत उद्योग प्रसार अधिकारी दिलीप भारद्वाज, जिला उद्योग केंद्र कांगड़ा के महाप्रबंधक राजेश खरवाल व विनय वर्मा के विशेष प्रयासों से उनके काम को पहचान मिली। वन मंत्री गोविंद ठाकुर ने जब सुदर्शना देवी के बनाए उत्पादों को देखा तो बस देखते ही रह गए।
स्टार्ट अप हीरो ऑफ इंडिया के लिए चयन

केंद्र सरकार की ओर से शुरू की गई स्टार्टअप इंडिया योजना के चलते सारे देश में स्टार्टअप इंडिया यात्रा का आयोजन किया गया। स्टार्टअप इंडिया यात्रा के दौरान धर्मशाला में आयोजित जिला स्तरीय बूट कैंप में सुदर्शना को भाग लेने के लिए आमंत्रित किया गया। उनके बनाए उत्पादों ने इस यात्रा के प्रबंधकों को खासा प्रभावित किया। उन्हें मंडी में होने वाली स्टेट लेबल प्रतियोगिता के लिए चयनित किया। आईआईटी मंडी में तीन दिन तक चली इस प्रतियोगिता में सुदर्शना के उत्पादों को सर्वश्रेष्ठ करार देते हुए प्रतियोगिता के जजों ने उन्हें स्टार्टअप हीरो ऑफ द स्टेट अवार्ड के लिए चुना। इसी के साथ सुदर्शना को राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता के लिए चयनित किया गया।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *