गुड न्यूज़ -अब सैनिक स्कूल सुजानपुर टीहरा तैयार करेगे महिला सैन्य अफसर, पहली बार लड़कियों को प्रवेश

Spread the love

हमीरपुर से विनोद भावुक की रिपोर्ट
सैन्य बलों में महिलाओं की बड़ी भागीदारी के उद्देश्य से भारत सरकार की पहल पर सैनिक स्कूल सुजानपुर टीहरा के हरे भरे परिसर में अब लड़कों के साथ लड़कियों को भी भारतीय सेना में अफसर बनने के लिए शारीरिक और मानसिक तौर पर स्ट्रोंग होते देखा जा सकेगा। यह पहला मौका है जब इस स्कूल में लड़कों के साथ- साथ लड़कियों को भी प्रवेश मिलने जा रहा है। यह स्कूल पहली बार 2021-22 शैक्षणिक सत्र में लड़कियों के बैच का स्वागत करने के लिए तैयार है। कक्षा 6 में 10 लड़कियों के बैच के प्रवेश के लिए लड़कियों को अखिल भारतीय सैनिक स्कूल प्रवेश परीक्षा (AISEEE) की अनुमति दी गई थी। अभी तक यह स्कूल भारतीय सशस्त्र बलों के लिए पुरुष अधिकारी तैयार कर रहा था, अब सैनिक स्कूल सुजानपुर टीहरा महिला सैन्य अधिकारी तैयार करने के लिए लड़कियों के लिए रेड कार्पेट बिछाने की तैयारियों में जुटा है।
इन सैनिक स्कूलों में लड़कियों को प्रवेश
हिन्दोस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक उत्तरी क्षेत्र के चार सैनिक स्कूलों सुजानपुर टीहरा (हिमाचल प्रदेश), कपूरथला (पंजाब), कुंजपुरा (हरियाणा), और नगरोटा ( जम्मू – कश्मीर) में कक्षा 6 में 10 लड़कियों के एक बैच का चयन करने के लिए प्रवेश परीक्षा आयोजित की गई है।
प्रधानमंत्री ने रखी नींव, राष्ट्रपति ने किया लोकार्पण
साल 1961 में तत्कालीन रक्षा मंत्री श्री वी के मेनन ने नॅशनल डिफेन्स अकादमी को फीड करने के लिए सैनिक स्कूलों की एक श्रृंखला शुरू करने का विचार परिकल्पित किया था। सैनिक स्कूल, सुजानपुर टीहरा की नींव तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने साल 1974 में रखी। स्कूल का उद्घाटन तत्कालीन राष्ट्रपति नीलम संजीव रेड्डी ने 02 नवंबर 1978 को किया था।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *