जब CORONA ने घर बिठाया तो ‘हिमाचली कुल्लड़ चाय’ का आइडिया आया, संक्रमण व तनाव से बचाने वाली जड़ी- बूटियों से बनी और कुल्लड़ में परोसी जाने वाली खास चाय

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

कांगड़ा से विनोद भावुक की रिपोर्ट

कांगड़ा जिला के देहरा कस्बे के 29 साल के अतुल राणा और 28 साल के उनके छोटे भाई अभिलाष राणा का कोविडकाल में ट्रायल के तौर पर शुरू किया स्टार्टअप ‘हिमाचली कुल्लड़ चाय’ का आइडिया खूब हिट रहा है. विभिन्न जड़ी- बूटियों के मिश्रण से कई ब्लेंड और फ्लेवर्स वाली ‘हिमाचली कुल्लड़ चाय’ को लेकर दावा किया जा रहा है कि इसका सेवन न केवल संक्रमण से बचाता है, मिट्टी के बने कुल्लड़ में परोसी जाने वाली यह खास चाय तनाव को भी कम करने में सहयोगी होती है. कोविड के चलते हुए लॉकडाउन के खुलने के बाद कांगड़ा नगर परिषद ग्राउंड के नजदीक शुरू किये गए ‘हिमाचली कुल्लड़ चाय’ के आउटलेट को मिले जबरदस्त रिस्पोंस के चलते यह कारोबारी जोड़ी पहले साल में हिमाचल प्रदेश के मुख्य पर्यटन स्थलों पर ‘हिमाचली कुल्लड़ चाय’ के 20 आउटलेट खोलने की तैयारियों में जुटे हैं. हिमाचल के बाहर भी ‘हिमाचली कुल्लड़ चाय’ को हिमाचल के बड़े ब्रांड के तौर पर इंट्रोड्यूस करने की योजना है. अब इस जोड़ी ने ट्रायल के तौर पर ‘हिमाचली कुल्लड़ लस्सी’ को भी बाज़ार में उतार दिया है.
May be an image of text that says "Himachali कLLAD LLAD चाय"
आम घर की ख़ास प्रतिभा
अतुल राणा और अभिलाष राणा की स्कूली शिक्षा सरकारी स्कूल से हुई.कॉमर्स स्ट्रीम में जमा दो करने के बाद दोनों ने ढलियारा कॉलेज से बीबीए किया और फिर अतुल ने हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सिटी से ह्युमन रिसोर्स एंड मार्केटिंग में एमबीए किया. उसके बाद 4 साल बद्दी की फार्म उद्योग में जॉब की. अभिलाष ने लवली प्रोफेसनल यूनिवर्सिटी से फाइनेंस में एमबीए करने के बाद शिमला में जॉब किया. साल 2016 में दोनों भाइयों ने अपनी – अपनी जॉब क्विट कर खुद का कारोबार स्थापित करने का विचार किया.
May be an image of drink and text that says "Himachali Kullad Chai"
एजुकेशन इंस्टीच्यूट्स के लिए वन पॉइंट सलूशन
अतुल राणा कहते हैं कि काफी मंथन के बाद वे इस नतीजे पर पहुंचे कि हिमाचल प्रदेश में पर्यटन और शिक्षा दो क्षेत्रों से सम्बंधित कारोबार की खूब संभावनाएं हैं. उन्होंने एजुकेशन सेक्टर को चुना और 2016 में अविशन इंटरप्राइजेज के बैनर तले एजुकेशन इंस्टीच्यूट्स के लिए वन पॉइंट सलूशन की शुरुआत की. स्कूल- कॉलेज की हर रिक्वायरमेंट को पूरा करने के उनके इस बिजनस आइडिया को खूब रिस्पोंस मिला और साल 2019 में उन्होंने ओप्स्टा विसन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड बना कर एजुकेशन इंस्टीच्यूट्स को सिविल वर्क के लिए भी सेवायें देनी शुरू कर दीं. उन्हें इस काम में भी आशातीत कामयाबी मिलनी शुरू हो गई.
May be an image of cake and indoor
हिम योगा निकेतन की पहल
अभिलाष राणा ने बंगलूरु से योगा ट्रेनिंग ली है और 12 साल का योगा का अनुभव है. वे अमेरिका सेरटीफ़ाइड इंटरनेशनल योगा टीचर हैं. उनके इस हुनर के चलते राणा बंधुओं ने 5 दिसंबर 2019 में धर्मशाला के नजदीक टंग- नरवाणा में ओप्सटा हिम योग निकेतन की शुरुआत की, जिसके शुभारम्भ अवसर पर स्थानीय विधायक विशाल नेहरिया मुख्य अतिथि जबकि जिला पुलिस प्रमुख विमुक्त रंजन विशेष अतिथि थे. उनके इस स्टार्टअप को भी बहुत अच्छा रेस्पोंस मिला. अभिलाष योग की ऑनलाइन टीचिंग कर रहे हैं और देहरा में ओप्सटा हिम योग स्टूडियो का संचालन कर रहे हैं.
हिमाचली कुल्लड़ चाय की शुरुआत

पिछले साल कोविड के चलते हुए लॉकडाउन के कारण स्कूल- कॉलेज बंद हो गए. राणा बंधुओं को अपने हिम योग निकेतन को भी बंद करना पड़ा. ऐसे हालात में क्या कारोबार किया जाए, इस पर जब मंथन शुरू हुआ तो कई बिजनस आइडिया पर विचार किया गया. एक औषधीय पेय के तौर पर ऐसी चाय को उतारने की उतारने के स्टार्टअप ने मूर्तरूप लिया जो संक्रमणकाल में सेहत के लिए गुणकारी हो. गहन अध्ययन और शोध के बाद आखिर में हिमाचली कुल्लड़ चाय के आउटलेट खोलने के आइडिया को पंख लगे.

…………………………………………………………………………..

हिमाचली कुल्लड़ चाय की फ्रेंचाइजी लेने के लिए समपर्क करें –

अतुल राणा, 8894724333


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *