पालमपुर के अवनीत, मदद कर जरूरतमंदों का दिल रहे जीत, मानवता की सेवा में जुटी युवा टोली को जयहिंद

Spread the love

पालमपुर से ललिता कपूर की रिपोर्ट
शिक्षित होने के सही मायने यही हैं कि हम संवेदनशील हो कर दूसरों के दुःख – दर्द का एहसास कर सकें और जरूरतमंदों की मदद के लिए हमेशा तत्पर रहें. पालमपुर के अवनीत शर्मा अभी पढ़ाई कर रहे हैं, परंतु इस युवा में मानव सेवा का जज्बा इस कद्र भरा है कि जब भी कोई जरूरतमंद व्यक्ति दिखें, वह उस व्यक्ति की किसी न किसी प्रकार से मदद अवश्य करते हैं। ऊन्होंने हेल्पिंग हैंड टीम का गठन किया है जिसके साथ काफी युवा जुड़ चुके हैं। यह टीम जिला कांगड़ा में कार्य कर रही हैं और जरूरतमंदों को सहायता प्रदान कर रही हैं। अवनीत का कहना है कि कोई भी सेवा की इस मुहिम में उनके साथ जुड़ सकता है और मानव सेवा मे अपना सहयोग कर सकता है.
करोना बीमारी का संकट जब संसार में फैला तो अवनीत और ऊनके साथियों ने मोहन और विशाल ने मिल कर लोगों को रक्तदान के प्रति जागरूक किया. क्योंकि उस समय अस्पताल में कोई भी व्यक्ति रक्तदान नहीं कर रहा था, जिसके चलते कि हॉस्पिटल में मरीजों को रक्त मिलना असंभव हो गया था।अवनीत खुद भी समय-समय पर रक्तदान करते रहते हैं और भी किसी न किसी प्रकार से मानव सेवा के कार्य में लगातार लगे रहते हैं. उनका कहना है कि हम लोगों को मानव सेवा के प्रति जागरूक करते हैं, जिससे कि लोगों की सेवा खुद व खुद हो जाती हैं। मानवता की सेवा में जुटी युवा टोली को जयहिंद।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.