स्तन कैंसर के उपचार में लाहौल स्पीति में होने वाली कुठ बनेगी वरदान, कृषि विश्वविद्यालय पालमपुर के वैज्ञानिक की रिसर्च, मिला यंग यंग साइंटिस्ट अवार्ड फोकस हिमाचल ब्यूरो, पालमपुर

Spread the love

स्तन कैंसर के उपचार में लाहौल स्पीति में होने वाली कुठ बनेगी वरदान, कृषि विश्वविद्यालय पालमपुर के वैज्ञानिक की रिसर्च, मिला यंग यंग साइंटिस्ट अवार्ड
फोकस हिमाचल ब्यूरो, पालमपुर
चौधरी सरवन कुमार कृषि कृषि विश्वविद्यालय पालमपुर के वैज्ञानिक डॉ. राकेश कुमार को को हैदराबाद में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय पशु चिकित्सा पैथोलॉजी कॉन्फ्रेंस में ‘प्रो. एस. रामचंद्रन मेमोरियल यंग साइंटिस्ट अवार्ड फॉर बेस्ट मॉलिक्यूलर ऑन्कोलॉजिस्ट, 2022 से सम्मानित किया गया है। कृषि विश्वविद्यालय के डॉक्टर जी सी नेगी पशु चिकित्सा एवम पशु विज्ञान महाविद्यालय के पशु चिकित्सा पैथोलॉजी विभाग में सहायक प्रोफेसर के रूप में कार्यरत डॉ. राकेश कुमार ने स्तन कैंसर की चिकित्सा की दिशा में रिसर्च की है। विश्वविद्यालय के युवा वैज्ञानिक को पुरस्कार मिलने पर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर एच.के. चौधरी, ने वैज्ञानिक के अनुसंधान प्रयासों की सराहना की है।प्रेरक कथा : मशरूम से आया लाइफ में बूम, उत्तरी भारत के सबसे सफल मशरूम उत्पादक विकास बेनाल की कामयाबी की प्रेरककथा
स्तन कैंसर में कुठ बनेगी वरदान
हिमाचल प्रदेश के जनजातीय क्षेत्र लाहुल और स्पीति में कुठ की खेती की जाती है और इसमें जलनरोधी, ऑक्सीकारकरोधी और हेपेटोप्रोटेक्टिव प्रभाव दिखाई देते हैं। युवा वैज्ञानिक ने सक्रिय सिद्धांतों को स्तन कैंसर के खिलाफ चिकित्सीय आहार के रूप में उपयोग करने की गुंजाइश प्रदान की है। अनुसंधान कार्य मानव और पशु चिकित्सा में भविष्य के अध्ययन के लिए आगे की नींव का काम करेगा। अध्ययन ने इस पौधे के सक्रिय सिद्धांतों को स्तन कैंसर के खिलाफ उपचारात्मक आहार के रूप में उपयोग करने की गुंजाइश प्रदान की है।लडभड़ोल कॉलेज का भवन बनकर हुआ तैयार ; विद्यार्थियों को मिलेगी बेहतरीन सुविधा, वर्तमान में लडभड़ोल कॉलेज के कला व वाणिज्य संकाय में पढ़ रहे हैं 180 बच्चे

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.