स्टार्टअप स्टोरी – मंडी की कंचन वैद्य ने गुरूगांव से शुरू किया ‘ओरिजनल निट’, शिशुओं के लिए हस्तनिर्मित ऊनी वस्त्र बनाने वाला यह स्टार्टअप हिमाचल की सैकड़ों महिलाओं के जीवन में कर रहा उजाला

Spread the love

स्टार्टअप स्टोरी – मंडी की कंचन वैद्य ने गुरूगांव से शुरू किया ‘ओरिजनल निट’, शिशुओं के लिए हस्तनिर्मित ऊनी वस्त्र बनाने वाला यह स्टार्टअप हिमाचल की सैकड़ों महिलाओं के जीवन में कर रहा उजाला
मंडी से विनोद भावुक की रिपोर्ट
यह प्रेरककथा है कि हिमाचल प्रदेश की उस युवा प्रतिभा की, जिसने पांच साल पहले अपनी बीस हजार की व्यक्तिगत बचत के साथ जिस स्टार्टअप की शुरूआत की थी, उस स्टार्टअप ने वर्ष 2016 में 45 लाख रुपए का, वर्ष 2017 में 1 करोड़ रुपए का राजस्व अर्जित करने का कमाल किया है और वर्ष 2018–19 के लिए 3.5 करोड़ रुपए राजस्व हासिल करने का लक्ष्य रखा। गुरुग्राम स्थित स्टार्टअप ‘ओरिजनल निट’मंडी की कंचन वैद्य का स्टार्टअप है, जो शिशुओं और बच्चों के लिए हस्तनिर्मित ऊनी वस्त्र बनाता है और ऑनलाइन व ऑफलाइन बेचता है। ओरिजनल निट’ की खास बात यह है कि यह स्टार्टअप हिमाचल प्रदेश के गांवों में महिलाओं के भविष्य को बेहतर बनाने में मदद कर रहा है। यह स्टार्टअप हिमाचल प्रदेश के कई गांवों में महिलाओं के लिए आजीविका का सृजन कर रहा है। यह स्टार्टअप आकर्षक उत्पादों को बाजार में लाने के साथ गांवों में महिलाओं के लिए आजीविका बनाने में मदद कर रहा है।
ऑस्टे्रलिया की कंपनी में जॉब से स्टार्टअप की ओर
ऑस्ट्रेलियाई कंपनी में एचआर मैनेजर रहीं कंचन वैद्य ने जॉब छोड़ उद्यमशीलता की राह पर चलने का फैसला किया है। कॉरपोरेट करियर के लिए मंडी शहर छोड़ कर महानगर में पहुंचने वाली कंचन वैद्य ने वर्ष 2015 में गुरूग्राम से अपने स्टार्टअप की शुरूआत की। वर्तमान में ओरिजनल निट के पास दिल्ली, पंजाब और हिमाचल प्रदेश में 300 से ज्यादा महिलाओं का नेटवर्क है। ये महिलाएं स्व-ंय सहायता समूहों के रूप में कार्य करती हैं।ये महिलाएं कंचन के भेजे डिजाइन पर ऊनी वस्त्र बनाकर ओरिजनल निट को उपलब्ध करवाती हैं।
धौलाधार व स्पीति में होमवर्क
अपने स्टार्टअप के लिए कंचन वैद्य ने पूरा होमवर्क किया। वर्ष 2015 में कांगड़ा की धौलाधार षाटी और लाहौल स्पीति की स्पीति घाटी की एक महीने की यात्रा की। कंचन वैद्य पहाड़ के अंदरूनी हिस्सों में छोटे– छोटे गांवों की यात्रा की और गांवों की महिलाओं को अपने स्टार्टअप में जोडऩे की शुरूआत की। हालांकि शुरुआती दौर में महिलाओं को अपने साथ जोडऩा आसान नहीं था, लेकिन फिर भी वह दस महिलाओं को अपने साथ जोडऩे में कामयाब रहीं। कंचन वैद्य ने एक नया बिजनेस मॉडल तैयार किया। वह डिजाइनरों को नियुक्त करती और व्हाट्सएप पर डिजाइन और चित्र वितरित करती। ओरिजिनल निट के लिए बुनाई करने के लिए हिमाचल प्रदेश की महिलाएं को उत्पाद प्राप्त करने के दिन ही भुगतान की व्यवस्था की गई। यह बिजनेस मॉडल काम कर गया और धीरे– धीरे एक चेन बनती गई। महिला समूहों ने उनके स्टार्टअप के लिए काम करना शुरू कर दिया।
पहले महीने 300 ऑर्डर
वर्ष 2015 की सर्दियों में कंचन वैद्य ने फेसबुक पर डिजाइन शेयर करने और ऑर्डर लेने शुरू किए। पहले महीने ओरिजनल निट पेज को पांच हजार लाइक और लगभग 300 ऑर्डर मिले। तब कंचन वैद्य ने आधिकारिक तौर पर अपना व्यवसाय पंजीकृत किया। ओरिजिनल निट ऐसे उत्पाद पेश करता है जो नरम ऊन और विभिन्न रंगों, पैटर्न और डिजाइनों में सौ प्रतिशत हस्तनिर्मित होते हैं। रेंज में स्वेटर, ड्रेस, कैप, मोजे शामिल हैं।
कई देशों को एक्सपोर्ट
उत्पाद फस्र्टफ्री और होपस्कॉच जैसे प्लेटफार्मों पर ऑनलाइन व देश भर के कई महानगरों के रिटेल स्टोर व भोपाल, बरेली, पलक्कड़ और जलगांव जैसे छोटे शहरों में भी उपलब्ध हैं। कंचन वैद्य का कहना है कि फल्ड से बन कर आने वाले उत्पादों को गुरुग्राम में एकत्र किया जाता है। उन्हें धोया जाता है और गुणवत्ता की जांच की जाती है, जिसके बाद पैक करके ऑनलाइन और ऑफलाइन खुदरा विक्रेताओं के पास भेज दिया जाता है। ओरिजनल निट पिछले दो सालों से अमेरिका, यूरोप और खाड़ी क्षेत्र में भी अपने उत्पाद निर्यात कर रहा है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *