सिंगर बन चमका गंगथ का इंजीनियर, अब यू ट्यूब पर सोहणेयो से धूम मचा रहा अजय

Spread the love

सिंगर बन चमका गंगथ का इंजीनियर, अब यू ट्यूब पर सोहणेयो से धूम मचा रहा अजय
नूरपुर से देवराज डढवाल की रिपोर्ट –
बाबा क्यालु की धार्मिक नगरी गंगथ निवासी अजय कौशल बाबा की भेंटे गाते आज उतर भारत के ख्याति प्राप्त गायक है । उसके गाने का जनून ही था कि वह रामलीला में गाने के लिए क्लब प्रबंधन से झगड़ पड़ता था और यही जनून उसे आज गायकी का सिरमौर बना गया । यू टयूब और उत्तर भारत के गायकों में उसकी फैन फॉलोइंग दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है ।
अजय का बाल्यकाल व शिक्षा 
28 मार्च 1990 को क्यालु बाबा की प्रसिद्ध ऐतिहासिक नगरी में सुभाष चंद व राज रानी के घर जन्मे अजय कौशल आज गायकी के क्षेत्र में किसी परिचय का मोहताज नही है । अजय कौशल की प्रारंभिक शिक्षा राजकीय बरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला गंगथ में हुई । बहन नेहा के इकलौते भाई का वचपन क्यालु महाराज के धार्मिक गांव गंगथ की गलियों में खेलते कूदते बीता जिसका प्रभाव उसके आगामी जीवन पर पड़ा और वह आज के युवाओं से भिन्न एक संस्कारी युवा , माता पिता का आज्ञाकारी और युवाओं के आइकन हैं ।
गायकी का आकर्षण 
माता पिता ने वचपन में ही बाबा क्यालु महाराज के चमत्कारों की गाथाएं सुनाकर उनके बालमन पर बाबा के प्रति असीम श्रद्धा के वीज अंकुरित कर दिए थे । बाबा के मंदिर में नित माथा टेकना व आरती व भजनों में हिस्सा लेने से उनका झुकाव गायकी की तरफ हो गया । जून महीने में बाबा क्यालु महाराज के दंगल में अजय की गायकी भी लोगों के सिर चढ़कर बोलती थी और इसी से प्रेरित होकर 2016 में बाबा क्यालु को समर्पित अपनी प्रथम एल्बम बाबा जी के भजनों की निकाली जिसे लोगों का असीम प्यार मिला।
गायकी व इंजीनियरिंग का कॉकटेल 
दिल्ली से मेकेनिकल इंजियरिंग में बी टेक करने बाले अजय कौशल देश की प्रसिद्ध दो पहिया वाहन कम्पनी हीरो मोटोकॉर्प लिमिटड गुरुग्राम हरियाणा में बतौर सीनियर इंजीनियर के रूप में अपनी सेवाएं दे रहे हैं । वचपन से गायकी के शौक को भी बे साथ साथ उभार रहे हैं और उसने संगीत की शिक्षा तानसेन संगीत विश्व विद्यालय दिल्ली व रुद्रा म्यूजिक अकादमी रूदपुर उत्तराखंड से प्राप्त की । सीखने की उनकी भूख ने उसे फरीदबाद के मशहूर संगीतज्ञ रूपेश बीतलवाल के दर तक पहुंचा दिया जो हरियाणा व दिल्ली में संगीत के क्षेत्र में एक प्रसिद्ध नाम है।
यू टयूब पर छाया अजय कौशल गंगथ 
बाबा क्यालु जी के प्रांगण से गायकी शुरू करने बाले अजय कौशल आज यू टयूब पर ख्याति प्राप्त गायक हैं । 2016 में बाबा क्यालू जी की एल्बम से इन्हें बहुत प्यार मिला और अभी तक इनके यू टयूब चैनल पर अजय कौशल गंगथ नाम से 14 वीडियो लांच हो चुके हैं जिसमें 02 हिमाचली गाने, 01 हिंदी गाना व 02 हिंदी भजन, 09 पंजाबी भजन हैं। उनके यू टयूब चैनल पर कुल 3 लाख 7 हज़ार वियूर हैं जबकि
तेरा मेरा प्यार हिमाचली गीत को एक साल में एक लाख से अधिक लोगों द्वारा देखा गया गया। धार्मिक गायकी में अजय कौशल को महारथ हासिल है और हिमाचल, पंजाब, दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान में कई जागरणों व धार्मिंक कार्यक्रमों में उन्होंने अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है । इसी के साथ इनका नाम आज उत्तर भारत के पसिद्ध गायकों की सूचि में शामिल है।
अजय की नई धमाल : सोहणेया 
अजय कौशल का नया गाना सोहनेयां यू टयूब पर रिलीज़ कर दिया गया है। इस गाने की विशेषता है कि हिमाचली होते हुए भी इसे दिल्ली,पंजाब, जम्मू कश्मीर, हरियाणा, उत्तराखंड समेत समस्त उत्तर भारत में पसंद किया जा रहा है। इस गाने में डोगरी व हिमाचली भाषा के ऐसे शब्द प्रयोग किये गए हैl जो कोई भी उत्तर भारतीय आसानी से समझ सकता है। इस गीत को अजय कौशल गंगथ ने खुद कंपोज़ किया है तथा इसका म्यूजिक मशहूर म्यूजिक डायरेक्टर बुल्ले शाह व विशाल पाल ने किया है। इस गाने के म्यूजिक में मॉडर्न म्यूजिक का प्रयोग किया है जैसा कि आजकल की बॉलीवुड मूवीज व् पंजाबी म्यूजिक इंडस्टी में प्रचलन है। अजय कौशल गंगथ का कहना है की वह और उनकी टीम पिछलेे 5 महीने से इस प्रोजेक्ट पर काम कर रहे थे। इस गाने को बनाने में बहुत मेहनत करनी पड़ी क्योंकि गाने को टीम हिमाचल ही नहीं बल्कि पुरे उत्तर भारत के लोगों को पसन्द आए ऐसा बनाना चाहते थे। इस गाने को बसोहली ब्रिज, डलहोजी, खजियार व काला टॉप में फिल्माया गया है । इसका वीडियो विक्रम जी ने डायरेक्ट किया है। एक महीने की ही अल्प अवधि में इसे 53 हजार से अधिक लोगों द्वारा देखा जा चुका है।
अजय का नया प्रोजेक्ट : हिमाचल प्यारा 
अजय का सपना है कि हिमाचली गायकी को भी वो मुकाम मिले जो पंजाबी भोजपुरी और हरियाणवी रागनी को मिला है । इसी कारण उसने हिमाचल प्यारा नाम से 20 हिमाचली गानों की एक सीरीज निकालने का बीड़ा उठाया है जिसके गीतकार , कम्पोजर और गायक स्वयं अजय कौशल होंगे और हर महीने एक गाना रिलीज करने का लक्ष्य रखा गया । इस कड़ी में एक गाना शीघ्र रिलीज कर दिया जायेगा।
गायकी कमाल तो सम्मान मिले बेशुमार 
कृष्णा ड्रामाटेक रामलीला क्लव ने सर्वप्रथम इनाम क्या दिया अजय ने उसके बाद पीछे मुड़कर नही देखा । इसके साथ स्कूल में बिभिन्न प्रतिस्पर्धाओं में पुरस्कृत होते हुए इसी वर्ष 2018 के नवंबर महीने में हिल्लीवुड इंडस्ट्री ने हिमाचली म्यूजिक अवार्ड्स में आर्टिस्ट ऑफ़ सेल्फ क्रिएशन के ख़िताब से सम्मानित किया और दिसंबर 29 को हिमाचल कला मंच ने शान -ए- काँगड़ा के खिताब से सम्मानित किया है । बहुआयामी प्रतिभसम्पन्न अजय कौशल को गोवाहाटी में विज्ञान विषय में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए तत्कालिक राष्ट्रपति डॉ ए पी जे अब्दुल कलाम के हाथों सम्मानित होने का अवसर भी मिला।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *