चौसकु प्रदेश कृषि विश्वविद्यालय में आजादी का अमृत महोत्सव,  स्टूडेंट्स ने देशभक्ति पर आधारिम कार्यक्रम किए पेश,  कुलपति प्रो.एचके.चौधरी ने की सराहना

Spread the love

फोकस हिमाचल ब्यूरो की पालमपुर से रिपोर्ट

चौसकु हिमाचल प्रदेश कृषि विश्वविद्यालय में देश की आजादी के 75 साल और गौरवमयी इतिहास,संस्कृति और आजादी के अमृत महोत्सव को मनाने के लिए हर घर तिरंगा अभियान के तहत साहित्यिक,सांस्कृतिक और खेल गतिविधियों का आयोजन किया गया। छात्र कल्याण संगठन के तहत आयोजित इस कार्यक्रम में साहित्यिक और खेल गतिविधियों के साथ रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन 6 अगस्त से आरंभ हुआ। इस आयोजन के  अंतर्गत शुक्रवार सुबह परिसर में प्रभात फेरी और दोपहर में किसान गोष्ठी का आयोजन होगा। कुलपति प्रो.एचके.चौधरी ने अमृत महोत्सव की इस श्रृंखला के तहत विद्यार्थियों द्वारा कार्यक्रम में बढ़-चढ़ कर भाग लेने की सराहना की।आज़ादी का अमृत महोत्सव : क्रांति की लौ जगाने में  मियां जवाहर के सिपहसालार जवाहर नरयाल की रही मुख्य भूमिका, 1915 को नागचला के लाकिया गोसाई के घर में हुई लूट में थे शामिल, ऐसे क्रांतिकारियों का विभाग के पास नहीं कोई रिकार्ड

कार्यक्रमों के परिणाम निम्न प्रकार रहें। देशभक्ति गीत गायन एकल वर्ग में शिया राणा, राजेश और संचित भगत कम्रशः पहले, दूसरे और तीसरे स्थान पर रहें। इसी प्रकार देशभक्ति गीत गायन समूहगान में अंशुधा व टीम, रिशव व टीम तथा हेवन व टीम, देशभक्ति नृत्य एकल में मोक्ष शर्मा, श्रेया शर्मा व दिव्यांश, समूह नृत्य में रियाा,राघवी पंडित व टीम, शिल्पा ठाकुर व टीम तथा इशिता व टीम, कविता में आयुष, पवन भारद्वाज व सार्थक शर्मा, प्रस्ताव लेखन प्रतियोगिता में ईशान, कृतिका व श्रेया मल्होत्रा, पोस्टर मेंकिग में दिव्यांषी, शगुल जम्वाल व आर्यन, भाषण में दिव्यांषु डोगरा, प्राची पुंडीर व प्रियाशु, नारा लेखन में अक्षय कपूर, रोहन बाली व ईशा ठाकुर, लोगो में आर्यन, तमन्ना शर्मा व शानवी ने कम्रशः पहला, दूसरा व तीसरा स्थान प्राप्त किया। प्रमुख खेल गतिविधियों वालीबॉल के छात्र मुकाबले में सामुदायिक विज्ञान महाविद्यालय विजेता व आधारभूत विज्ञान महाविद्यालय उपविजेता और छात्राओं में सामुदायिक विज्ञान महाविद्यालय विजेता और कृषि विज्ञान महाविद्यालय की टीम उपविजेता रहीं। इसी प्रकार टग आफ वार में सामुदायिक विज्ञान महाविद्यालय विजेता व कृषि विज्ञान महाविद्यालय की टीम उपविजेता रहीं।आज़ादी का अमृत महोत्सव : क्रांति की लौ जगाने में  मियां जवाहर के सिपहसालार जवाहर नरयाल की रही मुख्य भूमिका, 1915 को नागचला के लाकिया गोसाई के घर में हुई लूट में थे शामिल, ऐसे क्रांतिकारियों का विभाग के पास नहीं कोई रिकार्ड


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.