ओल्ड मोंक के नाम दुनिया में सबसे ज्यादा बिकने का है रिकॉर्ड, सोलन में बनती है यह डार्क रम, पदमश्री अवार्ड से सम्मानित मोहन मीकिन लिमिटेड के चेयरमैन कपिल मोहन

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

ओल्ड मोंक के नाम दुनिया में सबसे ज्यादा बिकने का है रिकॉर्ड, सोलन में बनती है यह डार्क रम, पदमश्री अवार्ड से सम्मानित मोहन मीकिन लिमिटेड के चेयरमैन कपिल मोहन
सोलन से विनोद भावुक की रिपोर्ट
पहाड़ में मौसम हल्की सी करवट बदले तो कड़ाके की ठंड पड़ जाती है। इस समय पहाड़ों के कड़ाके की ठंड पड़ रही है और ठंड के इस मौसम में ओल्ड मोंक का सिक्का खूब चल रहा है। सर्दियों के मौसम में हॉट ड्रिंक्स के शौकीनों के लिए ओल्ड मोंक रम का खासा क्रेज रहता है। अगर आप भी ओल्ड मोंक के दीवाने हैं तो हम आपको बता रहे हैं ओल्ड मोंक के नाम जुड़े रिकॉर्डस के बारे में। ओल्ड मोंक हिमाचल प्रदेश के सोलन में स्थित मोहन मिकिन ब्रिवरी में बनती है और पिछले 64 साल से अपने जादू से तलबगारों को मोहित किए हुए है। इस बात को शायद ही आप जानते होंगे कि वर्ष 1954 में लॉन्च ओल्ड मोंक लंबे समय तक दुनिया में सबसे ज्यादा बिकने वाली डार्क रम रही है।
1954 में लॉन्च हुई ‘ओल्ड मंक’
मोहन मिकन के चेयरमैन रहे कपिल मोहन ने 19 दिसंबर, 1954 को ‘ओल्ड मंक’ लॉन्च की थी। कपिल मोहन पहले आर्मी में थे और ब्रिगेडियर रहते हुए रिटायर हुए उन्होंने खुद कभी शराब नहीं पी थी। उन्हें वर्ष 2010 में पदमश्री पुरस्कार से नवाजा गया था। कपिल मोहन मीकिन लिमिटेड के चेयरमैन थे। यह कंपनी ही ओलड मोंक के साथ कई ओर ड्रिक्स बनाने का काम करती है।
लायन बियर थी पहली ड्रिंक
मोहन मीकिन कंपनी 1855 में एडवर्ड डायर ने बनाई थी। ये एशिया की पहली ब्रिवरी कंपनी थी। कसौली की पहाडय़िों में इसकी शुरुआत हुई थी। इसकी पहली ड्रिंक लायन बियर थी। साल 1949 में एनएन मोहन ने डायर की इस कंपनी को खरीद लिया। बाद में उनके बेटे कपिल मोहन इस कंपनी के चेयरमैन बने। एनएन मोहन भारत के एक बड़े बिजनेसमैन थे। वर्ष 1966 में इस कंपनी का नाम बदलकर कपिल मोहन ने मोहन मीकिन ब्रिवरीज रखा गया।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *