ऑन कॉल ब्लड डोनेशन – अनमोल जीवन बचाने के लिए हर रोज ब्लड डोनेट करते हैं नूरपुर ब्लड डोनर्स क्लब 34 डोनर्स

Spread the love

ऑन कॉल ब्लड डोनेशन – अनमोल जीवन बचाने के लिए हर रोज ब्लड डोनेट करते हैं नूरपुर ब्लड डोनर्स क्लब 34 डोनर्स
नूरपुर से सुखदेव की रिपोर्ट
नूरपुर के 15 सामाजिक कार्यकर्ताओं ने दिसंबर, 2015 में राजीव पठानिया के नेतृत्व में नूरपुर ब्लड डोनर्स क्लब का गठन लोगों को रक्तदान के प्रति जागरूक करने, रक्तदान शिविरों का आयोजन करने व आपातकाल में विभिन्न अस्पतालों में दाखिल मरीजों को रक्त उपलब्ध करवाने के लिये किया था। आज संस्था के पास समाज की हर जाति व वर्ग के 800 से भी अधिक सक्रिय सदस्य हैं। संस्था की ओर से अब तक 12 रक्तदान शिविरों का आयोजन किया जा चुका है, जिनमें 1800 से अधिक रक्तदानियों द्वारा रक्तदान किया जा चुका है।
रक्तदान के इतिहास का सबसे बड़ा कैम्प
हिमाचल प्रदेश के आज तक रक्तदान के इतिहास का सबसे बड़ा कैम्प नूरपुर ब्लड डोनर्स क्लब द्वारा 23 मार्च, 2016 को शहीदी दिवस के अवसर पर नूरपुर में लगाया गया था जिसमें एक ही दिन में एक ही जगह पर 603 लोगों ने रक्तदान किया था। 23 मार्च, 2017 को आयोजित कैम्प, जिसका शुभारं राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने किया, में 312 लोगों ने रक्तदान किया, जिनमें 123 महिला रक्तदानी थीं। 23 मार्च, 2018 को भारतीय सेना को समर्पित रक्तदान कैम्प में 321 लोगों ने रक्तदान किया जिनमें 137 ऐसे रक्तदानी थे, जिन्होंने पहली बार रक्तदान किया।
ऑन कॉल रक्तदान सेवा
संस्था ने 2016 में आपातकाल में विभिन्न अस्पतालों में दाखिल मरीजों को ऑन कॉल रक्तदान सेवा भी शुरू की, जिसके अंतर्गत संस्था के सदस्यों द्वारा 2370 यूनिट्स नूरपुर, पठानकोट, टांडा, धर्मशाला, शिमला, अमृतसर, जल्लंधर, लुधियाना, जम्मू, चंडीगढ़, दिल्ली आदि में दाखिल मरीजों को आपातकाल में डोनेट किये। हर रोज लगभग 3-4 यूनिट्स आपातकाल में ऑन कॉल सेवा के अंतर्गत उपलब्ध करवाए जा रहे हैं।
देश भर के डॉनर्स से कनेक्ट
इस संस्था का लगभग पूरे देश में रक्तदान के क्षेत्र में काम कर रही संस्थाओं से संपर्क है तथा वो पूरे देश में कहीं पर भी इन संस्थाओं के माध्यम से रक्त उपलब्ध करवाती है। संस्था के अध्यक्ष राजीव पठानिया को वर्ष 2018 में मानव एकता फाउंडेशन कोलकाता द्वारा राष्ट्रीय मानव रत्न अवार्ड से समान्नित किया गया था। संस्था को उपमंडल स्तर पर गणतंत्र दिवस व स्वतंत्रता दिवस पर सम्मानित किया जा चुका है। वर्ष 2018 में संस्था को जि़लाधीश कांगड़ा द्वारा राज्य प्रेरणा स्रोत पुरुस्कार के लिये भी नॉमिनेट किया था। अमर उजाला समाचार पत्र ने राजीव पठानिया को कांगड़ा एचीवर- 2016 से समान्नित किया है। फोकस हिमाचल साप्ताहिक ने उन्हें सोशल कमिटमेंट अवार्ड से समान्नित किया है। मार्च 2019 में नूरपुर ब्लड डोनर क्लब को हिमोत्कर्ष ने राष्ट्रीय एकात्मकता पुरुस्कार से नवाजा है। इसके अतिरिक्त क्लब के अध्यक्ष राजीव पठानिया को रक्तदान के लिये लोगों को जागरूक करने के लिये पंजाब व हरियाणा की कई संस्थाओं द्वारा सम्मानित किया जा चुका है।
रेगुलर ब्लड डोनर्स
संस्था के सदस्य भूपिंदर ठाकुर 59 बार रक्तदान कर चुके हैं, जिनको हिमोत्कर्ष की नूरपुर इकाई द्वारा वर्ष 2016 में कांगड़ा श्री अवार्ड से नवाजा जा चुका है। संस्था के आठ सदस्य 30 बार से अधिक, 15 सदस्य बीस बार से अधिक और 40 सदस्य दस बार से अधिक बार रक्तदान कर चुके हैं। 40 महिला सदस्य आपातकाल में क्लब की ऑन कॉल सेवा के अंतर्गत रक्तदान कर चुकी हैं।
नूरपुर में ब्लड बैंक की जरूरत
संस्था आज तक हजारों यूनिट्स रक्तदान कर चुकी है, जबकि नूरपुर में अभी तक ब्लड बैंक नहीं है और सदस्यों को रक्तदान के लिये हर बार या तो 30 किलोमीटर पठानकोट या 70 किलोमीटर धर्मशाला या टांडा जाना पड़ता है। रक्तदान के लिये आने जाने का सारा खर्चा सदस्य अपनी जेब से वहन करते हैं। संस्था अपने गरीब दिव्यांग छात्र सहायता व गरीब दिव्यांग सहायता प्रकल्प के अंतर्गत कई लोगों को ट्राई साईकल, वैसाखियां, व्हील चेयर आदि भी उपलब्ध करवा चुकी है। रुग्ण व गंभीर रूप से घायल मरीजों को हाइड्रोलिक बेड, व्हील चेयर, ऑक्सिजन सिलिंडर, वॉकर, स्टिकस, ड्रिप स्टैंड आदि भी प्रयोग के लिये निशुल्क उपलब्ध करवाती है।
ब्लड डोनेशन के लिए कम्पेन
इस संस्था ने आज तक कभी भी कोई भी सरकारी सहायता प्राप्त नहीं की है। संस्था एक ऐसे समाज के निर्माण के लिये प्रयासरत है जिसमें रक्त के आभाव में किसी की जान न जाये। रक्तदान के प्रति सोशल मीडिया पर नूरपुर ब्लड डोनर्स क्लब के जबरदस्त जागरूकता अभियान की बजह से आज न केवल हिमाचल बल्कि इसके आस पास के क्षेत्रों में भी इस प्रकार के संगठनों का गठन हो रहा है और काफी लोग इस मुहिम से जुड़ रहे हैं। राजीव पठानिया ने बताया कि वो हर रोज लगभग 2 से 3 घंटे रक्तदान के लिये लोगों को प्रेरित करने व विभिन्न अस्पतालों में दखिल मरीजों को रक्त का प्रबंध करने के लिये लगाते हैं।
राजीव पठानिया से आप मोबाइल नंबर 9418144200, 8219987900 मेल: pathania_xxx@rediffmail.com पर संपर्क कर सकते हैं।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *