अजब – गजब – रानीताल में है ‘मोहक्का पत्थर’, नमक चढाने से दूर हो जाती है शरीर के मस्सों की समस्या, ऐसा लगता है जैसे पत्थर के शरीर पर निकले हों लाखों मस्से, दूर दूर से आकर पत्थर से मन्नत मांगते हैं लोग

Spread the love

अजब – गजब – रानीताल में है ‘मोहक्का पत्थर’, नमक चढाने से दूर हो जाती है शरीर के मस्सों की समस्या, ऐसा लगता है जैसे पत्थर के शरीर पर निकले हों लाखों मस्से, दूर दूर से आकर पत्थर से मन्नत मांगते हैं लोग
रानीताल से मितेश कुमार की रिपोर्ट
देवभूमि के नाम से मशहूर हिमाचल प्रदेश में एक ऐसा पत्थर है, जिसकी मान्यता दूर दूर तक है. कांगड़ा जिला के रानीताल में मेन रोड़ से महज दो सौ मीटर के फासले पर जंगल में एक अजीबोगरीब किस्म का बड़ा पत्थर स्थित है. इस पत्थर को ‘मोहक्का पत्थर’ के रूप में मान्यता प्राप्त है. पत्थर को देखने पर ऐसा लगता है, जैसे पत्थर पर लाखों मस्से उगे हुए हों. इस क्षेत्र में ऐसा कोई दूसरा पत्थर अथवा चट्टान नहीं है. ऐसी लोक आस्था है कि यह पत्थर खास है. यही कारण है कि सदियों से इस पत्थर के आगे श्रद्धा से लोगों से सिर झुक जाते हैं.
मस्सों से पीड़ित चढाते है नमक
स्थानीय लोगों का कहना है कि मस्सों से परेशान लोग इस पत्थर से मन्नत मांगने दूर दूर से आते हैं. यह सिलसिला कब शुरू हुआ और कब से चल रहा है, लोगों को ठीक से याद नहीं पर इतना पता है कि रियासतकाल से इस पत्थर को विशेष दर्जा मिलता रहा है. यहां मन्नत मांगने से जिन लोगों को राहत मिलती है, वे प्रसाद स्वरूप इस पत्थर पर नमक की भेंट चढाते हैं.(तस्वीरों में देखिये -अजीबोगरीब पत्थर पर चढ़ाया गया ताज़ा नमक ). कहा जाता है कि नमक की भेंट से यह रहस्यमयी पत्थर प्रसन्न हो जाता है.
आस्था या अंधविश्वास
मेडिकल साईस के मुताबिक मस्सों का उपचार किसी पत्थर को नमक चढ़ा कर संभव नहीं है, हालाँकि मस्सों से छुटकारा पाने के कुछ घरेलू नुस्खे जरूर हैं, पर इसे आस्था कहें अंधविश्वास कि विज्ञान के इस युग में भी इस पत्थर के लिए प्रेम कम नहीं हुआ है, न केवल हिमाचल प्रदेश] बल्कि पड़ोसी राज्यों से भी लोग मस्सों के उपचार के लिए पत्थर के आगे सिर झुकाते हैं.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *